मंगलवार , नवम्बर 29 2022 | 04:22:57 AM
Breaking News
Home / राष्ट्रीय / भारत में कोविड संक्रमण व टीकों की उपलब्धता – 16 जून 2022

भारत में कोविड संक्रमण व टीकों की उपलब्धता – 16 जून 2022

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). राष्ट्रव्यापी कोविड टीकाकरण के तहत अब तक 195.67 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। भारत में सक्रिय मरीजों की संख्या 58,215 है। सक्रिय मामलों की दर 0.13 प्रतिशत है।स्वस्थ होने की वर्तमान दर 98.65 प्रतिशत है। बीते चौबीस घंटों में 7,624 लोग स्वस्थ हुए, अब तक स्वस्थ हुए कुल लोगों की संख्या 4,26,74,712 है।पिछले 24 घंटों में 12,213 नए मामले सामने आए। दैनिक सक्रिय मामलों की दर 2.35 प्रतिशत है।साप्ताहिक सक्रिय मामलों की दर 2.38 प्रतिशत है। अब तक 85.63 करोड़ जांच की जा चुकी हैं, बीते चौबीस घंटों में 5,19,419 जांच की गई।

केंद्र सरकार देशभर में कोविड-19 टीकाकरण का दायरा विस्तृत करने और लोगों को टीके लगाने की गति को तेज करने के लिये प्रतिबद्ध है। राष्ट्रव्यापी कोविड 19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी,2021 को प्रांरभ हुआ था। कोविड-19 के टीके को सभी के लिए उपलब्ध कराने के लिए नया चरण 21 जून 2021 से शुरू किया गया था। टीकाकरण अभियान की रफ्तार को अधिक से अधिक टीके की उपलब्धता के जरिये बढ़ाया गया है। इसके तहत राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टीके की उपलब्धता के बारे में पूर्व सूचना प्रदान की जाती है, ताकि वे बेहतर योजना के साथ टीके लगाने का बंदोबस्त कर सकें और टीके की आपूर्ति श्रृंखला को दुरुस्त किया जा सके।

देशव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में केंद्र सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क कोविड टीके प्रदान करके उन्हें पूर्ण सहयोग दे रही है। टीके की सर्व-उपलब्धता के नये चरण में, केंद्र सरकार टीका निर्माताओं से 75 प्रतिशत टीके खरीदकर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क प्रदान करेगी।

टीके की खुराकें (16 जून, 2022 तक)
अब तक हुई आपूर्ति 1,93,53,58,865
शेष टीके 13,28,75,455

केंद्र सरकार द्वारा अब तक निःशुल्क और सीधे राज्य सरकार खरीद माध्यमों से टीके की लगभग 193.53 करोड़ (1,93,53,58,865) खुराकें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उपलब्ध कराई गई हैं। अभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की 13.28 करोड़ से अधिक (13,28,75,455) अतिरिक्त और बिना इस्तेमाल हुई खुराकें उपलब्‍ध है, जिन्हें लगाया जाना है।

यह भी पढ़ें : विदेशी टीमों के साथ भी हो सकता है आईपीएल, बीसीसीआई ने शुरू की कोशिश

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

डॉ. दीपा मलिक नि-क्षय मित्र और टीबी मुक्त भारत अभियान की राष्ट्रीय दूत बनीं

नई दिल्ली (मा.स.स.). पद्म श्री एवं खेल रत्न अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित भारत की पहली …