गुरुवार, मई 23 2024 | 12:20:50 PM
Breaking News
Home / राज्य / पश्चिम बंगाल / संदेशखाली हिंसा पीड़ितों के लिए सीबीआई ने जारी की एक अलग ई-मेल आईडी

संदेशखाली हिंसा पीड़ितों के लिए सीबीआई ने जारी की एक अलग ई-मेल आईडी

Follow us on:

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में जमीन हड़पने वाले पीड़ितों के लिए सीबीआई ने ई-मेल आईडी बनाई है। जिस मामले से जुड़ी शिकायते दर्ज करवा सकते हैं। गुरुवार को अधिकारियों ने यह बात कही। केंद्रीय एजेंसी ने बुधवार को कलकत्ता  हाईकोर्ट के आदेशों के अनुपालन में sandeshkhali@cbi.gov.in ई-मेल आईडी बनाई है।

शिकायत पर मामले दर्ज करना शुरू करेगी सीबीआई

सीबीआई के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि जिला मजिस्ट्रेट, उत्तर 24 परगना से भी अनुरोध किया गया है कि वे इलाके में उक्त ई-मेल आईडी का पर्याप्त प्रचार करें और हाईकोर्ट के मुताबिव क्षेत्रों में व्यापक प्रसार वाले स्थानीय दैनिक समाचार पत्रों में एक सार्वजनिक सूचना भी जारी करें। सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) प्राप्त शिकायतों के आधार पर मामले दर्ज करना शुरू कर देगी।

क्या है मामला

बुधवार को हाईकोर्ट ने संदेशखाली में दुष्कर्म और भूमि कब्जा करने के आरोपों की अदालत की निगरानी में सीबीआई जांच का आदेश देते हुए कहा कि न्याय और निष्पक्ष जांच जरूरी है। अदालत ने राजस्व अभिलेखों का बारीकी से निरीक्षण करने और कथित रूप से परिवर्तित की गई भूमि का निरीक्षण करने के बाद, मछली पालन के लिए कृषि भूमि को जल निकायों में कथित अवैध रूपांतरण पर एक व्यापक रिपोर्ट दाखिल करने का भी निर्देश दिया।

सीबीआई से 2 मई को रिपोर्ट पेश करने को कहा- कोर्ट

अदालत ने केंद्रीय एजेंसी से 2 मई को सुनवाई की अगली तारीख पर एक व्यापक रिपोर्ट पेश करने को कहा। राज्य सरकार को सीबीआई को जरूरी सहायता देने का निर्देश दिया गया। एजेंसी पहले से ही संदेशखाली में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों पर कथित तौर पर तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) नेता शाहजहां शेख द्वारा उकसाई गई भीड़ द्वारा किए गए हमलों से संबंधित तीन मामलों की जांच कर रही है।

सीबीआई जांच हो तो बहुत अच्छा होगा-शाहजहां

उधर, संदेशखाली मामले के मुख्य आरोपी शेख शाहजहां ने बृहस्पतिवार को कहा कि अगर केस की सीबीआई जांच हो तो यह बहुत अच्छा होगा, जबकि राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम एजेंसी को महत्व देने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा, यातायात पुलिस की तरह ही लोग अब सीबीआई की बात नहीं मानते। उल्लेखनीय है कि शेख शाहजहां के खिलाफ सीबीआई पहले ही जांच शुरू कर चुकी है। हालांकि, कलकत्ता हाईकोर्ट के आदेश के बाद अब पूरे मामले की जांच का जिम्मा केंद्रीय एजेंसी को सौंपा गया है, जिस पर शाहजहां ने पहली बार प्रतिक्रिया दी है।

साभार : अमर उजाला

फेसबुक पेज : https://www.facebook.com/profile.php?id=61558434413602

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

ममता बनर्जी, मुस्लिम कट्टरपंथियों के वोट के लिए कर रही हैं संतों का अपमान : नरेंद्र मोदी

कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बिष्णुपुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए …