गुरुवार, मई 23 2024 | 11:31:04 AM
Breaking News
Home / राज्य / दिल्ली / कांग्रेस की बैठक में भिड़े प्रत्याशी कन्हैया कुमार और वरिष्ठ नेता संदीप दीक्षित

कांग्रेस की बैठक में भिड़े प्रत्याशी कन्हैया कुमार और वरिष्ठ नेता संदीप दीक्षित

Follow us on:

नई दिल्ली. प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में शुक्रवार शाम उस समय खासा हंगामा हो गया जब वहां उत्तर पूर्वी दिल्ली से पार्टी प्रत्याशी कन्हैया कुमार और क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेसियों के बीच परिचय बैठक चल रही थी। इस दौरान पूर्व सांसद संदीप दीक्षित, कन्हैया और पार्टी के प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया में काफी बहसबाजी हुई। कहने को इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली सहित और भी अनेक नेता मौजूद थे, लेकिन ज्यादातर तमाशबीन ही बने रहे।जानकारी के मुताबिक टिकट मिलने के बाद शुक्रवार को कन्हैया कुमार पहली बार प्रदेश कार्यालय पहुंचे थे। इस बैठक का उद्देश्य चुनावी रणनीति भी तैयार करना था, लेकिन बैठक बेनतीजा ही खत्म हो गई।

संदीप ने कन्हैया कुमार को बाहरी कहा

सूत्र बताते हैं कि उत्तर पूर्वी सीट से पूर्व सांसद संदीप दीक्षित भी टिकट मांग रहे थे, लेकिन पार्टी हाईकमान ने कन्हैया को दे दिया। इससे संदीप खासे नाराज थे। बताया जा रहा है कि बैठक में संदीप थोड़ा देरी से पहुंचे, तो मंच के सामने पीछे की ओर ही बैठ गए। इस पर लवली ने उनसे आगे आने को कहा। लेकिन संदीप ने मना कर दिया तो लवली ने फिर जोर देते हुए उन्हें आगे आने को कहा। कन्हैया ने भी अपनी सीट से उठते हुए, संदीप को अपनी सीट पर बैठने का आग्रह किया। इस पर ही संदीप भड़क उठे और वह कन्हैया को भला-बुरा कहने के साथ-साथ ‘बाहरी’ कहने लगे।

संदीप ने बावरिया को भी नहीं बख्शा

इस पर बावरिया भी भड़क उठे। उन्होंने संदीप को नसीहत देते हुए शांत रहने के लिए कहा, लेकिन संदीप गुस्से में लगातार कन्हैया को टार्गेट करते रहे। तब कन्हैया ने भी धीरे से कह दिया कि आप तो भाजपा की भाषा बोल रहें है। कन्हैया का यह कहना था कि संदीप और भड़क उठे। अन्य वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें काफी शांत कराने के लिए कोशिश की लेकिन वह चुप नहीं हुए। संदीप ने बावरिया को भी नहीं बख्शा। हंगामा काफी देर तक चलता रहा। इस मौके पर कुछ अपशब्द भी बोले गए। इस क्षेत्र के एक-दो कांग्रेसी नेताओं ने भी संदीप का पक्ष लेते हुए कन्हैया को ‘बाहरी’ का तमगा पहना दिया।

जानकारी हाईकमान को भी दे दी गई है

सूत्रों का कहना है कि बैठक में कन्हैया के साथ जिस तरह का व्यवहार किया गया है, उसकी जानकारी हाईकमान को भी दे दी गई है। फिलहाल तो मामले को दबाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन मामला इतना संगीन है कि दबने वाला नहीं है। बैठक में पूर्व अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा. पूर्व विधायक हसन अहमद, मतीन अहमद और भीष्म शर्मा, अनिल भारद्वाज, जिलाध्यक्ष जुबैर अहमद और आदेश भारद्वाज, अली मेहंदी आदि मौजूद थे। जब इस संदर्भ में बाबरिया और संदीप से प्रतिक्रिया मांगी गई तो दोनों ने ही अनजान बनते हुए यह कहकर बात टाल दी कि नहीं, नहीं ऐसा कुछ भी नहीं हुआ।

साभार : दैनिक जागरण

फेसबुक पेज : https://www.facebook.com/profile.php?id=61558434413602

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

दिल्ली पुलिस को स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट वाला सीसीटीवी फुटेज नष्ट होने की संभावना

नई दिल्ली. स्वाति मालीवाल मामले में दिल्ली पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। पुलिस का कहना …