रविवार , जनवरी 29 2023 | 01:40:29 AM
Breaking News
Home / राज्य / पूर्वोत्तर भारत / हमेशा याद रखें,बैलट इज़ मोर इम्पोर्टेन्ट दैन बुलेट : अनुराग ठाकुर

हमेशा याद रखें,बैलट इज़ मोर इम्पोर्टेन्ट दैन बुलेट : अनुराग ठाकुर

Follow us on:

अगरतला (मा.स.स.). केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण व युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर आज त्रिपुरा के अगरतला में आयोजित “युवा संवाद, भारत@2047 कार्यक्रम” में सम्मिलित हुए। इस दौरान उन्होंने वहां उपस्थित युवाओं से सीधा संवाद स्थापित किया। युवाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “जब राष्ट्र निर्माण की बात आती है तब देश और दुनिया में सभी का ध्यान युवाओं की ओर ही जाता है। युवा माने तेज, युवा माने सपना, युवा माने नयी ऊर्जा, युवा माने नयी सोच, युवा माने नए लक्ष्य, युवा माने भविष्य, युवा माने उम्मीद की किरण, युवा माने सूर्य। सूर्य खुद जलकर दुनिया को प्रकाशमय करता है। हमारा युवा भी तप कर देश के निर्माण हेतु आगे बढ़ रहा है।”

जी-20 के अंतर्गत आयोजित यूथ-20 के बारे में जानकारी देते हुए खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री ने कहा, “भारत को 21वीं शताब्दी में विश्वगुरु बनाने के स्वामी विवेकानंद जी के सपने को हमारे युवा ही पूरा कर सकते हैं। आज भारत को शिखर पर पहुंचाने के एक नरेन्द्र (स्‍वामी विवेकानंद) के सपने को दूसरा नरेन्द्र पूरा कर रहा है। मोदी जी के नेतृत्व में भारत विश्वगुरु बनने की राह पर अग्रसर है। जी-20 की अध्यक्षता इसी बात का द्योतक है। जी-20 एक ऐसा मंच है जिससे भारत अपने गौरवशाली इतिहास, कला-संस्कृति व साहित्य से दुनिया को अवगत करा सकता है। इसका एक बड़ा उत्तरदायित्व हमारे युवाओं के कंधों पर हैं। जी-20 के अंतर्गत वाई-20 यानी यूथ 20 इंगेजमेंट ग्रुप भी पूरे देश में सभाएं आयोजित करेगा। हम वाई-20 टॉक को सभी विश्वविद्यालयों, विद्यालयों, एनवाईकेएस, एनएसएस, स्काउट्स & गाइड्स तक लेकर जाएंगे। हमारे युवाओं की बात दुनिया के सभी नेता सितम्बर में सुनेंगे। हमारा युवा कैसे देश और विश्व को आगे बढ़ाएगा, इसका डॉक्यूमेंट बना कर हम सितम्बर में दुनिया के 20 सबसे शक्तिशाली राष्ट्रों के नेताओं को देंगे।”

युवाओं को भविष्य के भारत का सूत्रधार बताते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, “हमारे युवाओं को तय करना है कि भविष्य का भारत कैसा होगा। ये आपको ही तय करना है और आपको ही इसे साकार भी करना है। जलवायु परिवर्तन आपके, किसान के और बाकी सभी लोगो के जीवन पर असर डालता है। कभी एकदम से बारिश हो रही, कहीं सूखा पड़ रहा तो कहीं तूफ़ान आ रहा। पिघलते हुए ग्लेशियरों का क्या करना है, सब आपको तय करना है।

अपने वक्तव्य में आगे ग्रीन हाइड्रोजन मिशन के लाभ की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, “बढ़ती गाड़ियों से इतना प्रदूषण हो रहा है। इसका विकल्प क्या होगा? आज देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियां चल रहीं हैं। भविष्य में ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली गाड़ियां भी आने वाली हैं। भारत ने मोदी जी के नेतृत्व में नेशनल ग्रीन हाइड्रोजन मिशन लॉन्च कर दिया है। इससे 8 लाख करोड़ से अधिक का इन्वेस्टमेंट आएगा। 8 लाख से ज्यादा लोगों को प्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। इसके लिए 125 जीडब्ल्यू के सोलर पावर प्लांट लगेंगे। ग्रीन हाइड्रोजन बायोमास से भी बन सकता है। अपशिष्ट से ऊर्जा (waste to energy) भी बन सकती है। ये जो क्रूड ऑयल और गैस के लिए हम दुनिया पर निर्भर हैं, उसकी जरूरत नहीं पड़ेगी। 2030 तक हम एक लाख करोड़ रुपये तक के आयात में कमी लायेंगे।”

हमें भारत को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाना है। 2014 से पहले, यानी 70 वर्षों में जितने आईआईटी, आईआईएम, मेडिकल कॉलेज, एम्स पूरे भारत में बने थे, उससे ज्यादा केन्‍द्र सरकार ने पिछले 8 वर्षों में बनवाए हैं। त्रिपुरा को बड़ा एयरपोर्ट दिया, नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी, हॉकी का सिंथेटिक ग्राउंड दिया। त्रिपुरा के आठों ज़िलों में हम इंडोर स्टेडियम बनाकर देंगे। सभी स्टेडियमों में 15-20 गेम्स खेलने की सुविधा होगी। हमें हर ज़िले, हर शहर से जिमनास्ट और खिलाड़ी चाहिए।”

आजादी के 100 वर्षों के बाद के भारत की परिकल्पना करते हुए आगे मंत्री ने कहा, “मित्रों देश ने आजादी के 75 वर्ष पूरे किये हैं। हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। प्रधानमन्त्री जी ने इस अमृत काल में सभी युवाओं की भागीदारी की बात की है। अगले 25 वर्षों के बाद जब भारत आजादी के 100 वर्ष मनाएगा तो हमें असल मायने में स्वर्णिम काल में प्रवेश करना है। हमें भारत के सॉफ्ट पावर को आगे बढ़ाना है। हमारा योग, म्यूजिक, सिनेमा, आध्यात्म इत्यादि हमारे सॉफ्ट पावर हैं। आज दुनिया की बड़ी से बड़ी कंपनियों के सीईओ भारतीय हैं।”

इसके पश्चात आतंकवाद पर मोदी सरकार की नीतियों को निर्णायक बताते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, पिछले आठ वर्षों में हमने आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक नीति अपनाते हुए स्पष्ट कार्रवाई की। अलगाववाद को भी हराया है। नार्थ ईस्ट में इंसर्जेन्सी में 89% की कमी आयी है। आज आफ्सपा को अधिकतर क्षेत्रों से वापस ले लिया गया है। रिकॉर्ड पीस एग्रीमेंट हुए हैं। इसी प्रकार जम्मू कश्मीर में जहां आतंकवादी तिरंगा नहीं लहराने देते थे वहां से धारा 370 को खत्म किया। आज कश्मीर की गली-गली में तिरंगा लहरा रहा है। एक भारत श्रेष्ठ भारत का सपना साकार हो रहा है।

इस कार्यक्रम के अंत में ठाकुर ने सभी युवाओं से चेंज एजेंट बनने का आह्वान किया और कहा, “हमेशा याद रखें, ‘बैलट इज़ मोर इम्पोर्टेन्ट दैन बुलेट’। आइये मिलकर देश को आगे बढ़ाएं। ज़िन्दगी में सर्वदा आगे बढ़ें, कभी निराश न हों। एक साथ मिलकर एक टीम के रूप में काम करें।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

21वीं सदी का यह दशक, भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर के कायाकल्प का दशक है : नरेंद्र मोदी

लखनऊ (मा.स.स.). प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से वाराणसी में दुनिया …