गुरुवार , दिसम्बर 08 2022 | 02:49:41 PM
Breaking News
Home / व्यापार / इरेडा की दूसरी तिमाही का कर पूर्व लाभ 76.16 प्रतिशत बढ़कर 276.31 करोड़ रुपये हुआ

इरेडा की दूसरी तिमाही का कर पूर्व लाभ 76.16 प्रतिशत बढ़कर 276.31 करोड़ रुपये हुआ

Follow us on:

नई दिल्ली (मा.स.स.). भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास संस्था (इरेडा), जोकि नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई) के तहत एक सार्वजनिक उपक्रम है, ने आज 30 सितंबर, 2022 को समाप्त दूसरी तिमाही के लिए लेखा परीक्षित वित्तीय परिणामों की घोषणा की। कंपनी ने 276.31 करोड़ रुपये का कर पूर्व लाभ (पीबीटी) अर्जित किया है, जो पिछले वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही में 156.86 करोड़ रुपये की तुलना में 76.15 प्रतिशत अधिक है। इरेडा की शुद्ध गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) वित्तीय वर्ष 2022-23 की दूसरी तिमाही में 2.72 प्रतिशत तक कम हो गई हैं, जो वित्तीय वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही में 4.87 प्रतिशत थी, जो कि साल–दर–साल आधार पर 44 प्रतिशत की महत्वपूर्ण कमी है।

वित्तीय वर्ष 2022-23 की दूसरी तिमाही की मुख्य विशेषताएं वित्तीय वर्ष 2021-22 की इसी अवधि की तुलना में इस प्रकार हैं:

  • कर पूर्व लाभ:156.86 करोड़ रुपये की तुलना में 276.31 करोड़ रुपये (76.15 प्रतिशत की वृद्धि)
  • कर पश्चात लाभ:110.27 करोड़ रुपये की तुलना में 184.30 करोड़ रुपये (67.14 प्रतिशत की वृद्धि)
  • सकल आय:682.94 करोड़ रुपये की तुलना में 791.56 करोड़ रुपये (15.90 प्रतिशत की वृद्धि)
  • कुल संपत्ति (नेटवर्थ):3,333.19 करोड़ रुपये की तुलना में 5,638.31 करोड़ रुपये (69.16 प्रतिशत की वृद्धि)
  • ऋण पुस्तिका:28,856.48 करोड़ रुपये की तुलना में 33,783.36 करोड़ रुपये (17.07 प्रतिशत की वृद्धि)
  • ऋण स्वीकृति:5925.12 करोड़ रुपये की तुलना में 11,226.49 करोड़ रुपये (89.47 प्रतिशत की वृद्धि)
  • शुद्ध एनपीए:4.87 प्रतिशत की तुलना में 2.72 प्रतिशत (44.00 प्रतिशत की कमी)
  • सकल एनपीए:8.05 प्रतिशत की तुलना में 5.06 प्रतिशत (37.17 प्रतिशत की कमी)

इरेडा के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) प्रदीप कुमार दास ने कहा: “इरेडा ने तिमाही आधार पर पीबीटी एवं पीएटी में क्रमशः 76.15 प्रतिशत एवं 67.14 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है और सकल एवं शुद्ध एनपीए में भी उल्लेखनीय कमी दर्ज की है, जोकि किसी भी एनबीएफसी के लिए एक बड़ी उपलब्धि है।” इरेडा के सीएमडी ने इस बात पर प्रकाश डाला कि यह टीम इरेडा के योगदान के बिना संभव नहीं होता। उन्होंने सभी कर्मचारियों को उनकी लगातार कड़ी मेहनत और समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने केन्द्रीय विद्युत तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह तथा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा तथा रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री भगवंत खुबा को उनके निरंतर मार्गदर्शन एवं सहयोग के लिए हृदय से आभार व्यक्त किया। दास ने एमएनआरई के सचिव एवं अन्य अधिकारियों और निदेशक मंडल की ओर से प्राप्त निरंतर समर्थन के लिए भी अपना आभार व्यक्त किया।

मित्रों,
मातृभूमि समाचार का उद्देश्य मीडिया जगत का ऐसा उपकरण बनाना है, जिसके माध्यम से हम व्यवसायिक मीडिया जगत और पत्रकारिता के सिद्धांतों में समन्वय स्थापित कर सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए है। कृपया इस हेतु हमें दान देकर सहयोग प्रदान करने की कृपा करें। हमें दान करने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें -- Click Here


* 1 माह के लिए Rs 1000.00 / 1 वर्ष के लिए Rs 10,000.00

Contact us

Check Also

भारतीय अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण को गति देने में भारतीय नागरिकों के कर्तव्य

– प्रहलाद सबनानी अभी हाल ही में अमेरिका के निवेश के सम्बंध में सलाह देने …